भीख में मिले पैसे से 11 किलो पीतल का घंटा चढ़ाया अटरिया मंदिर में, 6 मई को उठेगा अटरिया देवी का डोला

 

-दीपक कुकरेजा

रुद्रपुर (उत्तराखंड)। ऊधम सिंह नगर के जिला मुख्यालय के पास रुद्रपुर में अटरिया मंदिर परिसर में चल रहे मेले का समापन अब 6 मई को होगा। पहले यह तीन मई निर्धारित था। यहां एक श्रद्धालु ने भिक्षावृत्ति से प्राप्त धन से 11 किलो वजनी पीतल का घंटा चढ़ाया।
मेला प्रबंधक पंकज गौड़ के मुताबिक अटरिया देवी (माता) के डोले को 3 मई को अटरिया मंदिर से रामपुरा के लिए प्रस्थान करना था, लेकिन पंचाग के अनुसार मुहूर्त न बनने के कारण डोला 6 मई सोमबार को अटरिया मदिंर जगतपुरा से महन्त निवास रम्पुरा के लिए प्रस्थान करेगा।
उत्तर प्रदेश के गढ़,गऊघाट निवासी उर्मिला और उसके विकलांग पति राजू ने 11 किलो पीतल का घंटा चढ़ाया। यह दंपत्ति भिक्षावृत्ति करता है। अटरिया देवी में आस्था के चलते इन्होंने अपनी कड़ी मेहनत से हासिल पैसे से यह मंदिर पीतलनगरी मुरादाबाद से लाकर यहां मंदिर की महंत माता पुष्पा देवी को सौंपा जिसे उनकी इच्छा के चलते मंदिर के मुख्य द्वार पर लटकाया गया।
पूरी दुनिया के अधिकांश लोग आस्था और विश्वास के सहारे जीते हैं। अटरिया मंदिर के बारे में भी मान्यता है कि सच्चे मन से मन्नत मांगने पर मां अटरिया इसे पूरी करता है। इसी आशा और विश्वास के चलते लाखों लोग अटरिया देवी के मंदिर में दर्शन और मन्नत मांगने आते हैं। यहां चैत्र मांस की पूर्णिमा से मेला
आयोजित होता है। इस अवसर पर यहां अभिषेक गौड़, सुनीता गौड़, दीपा शर्मा, भुवन चंद्र जोशी, वेदप्रकाश, अमित एवम मीडिया प्रभारी दीपक कुकरेजा आदि थे।

फेसबुक या कहीं भी शेयर करो

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp

फेसबुक या कहीं भी शेयर करो

CALL NOW
+
Call me!