लेफ्ट रोस्ट्रोलेट्रल प्रीफ्रंटल कोर्ट्यू को उत्तेजित कर भूली-बिसरी बातें याद की जा सकती हैं !

 

लंदन। हमारा दिमाग एक जटिल अंग है। इसे समझना और इसका अध्ययन करना बेहद मुश्किल काम है। हालांकि, वैज्ञानिकों ने दिमाग के उस भाग का अध्ययन किया है जो याददाश्त बनाए रखने का काम करता है। इससे खोई याददाश्त वापस पाने में भी मदद मिलेगी। यह रिसर्च जर्नल ऑफ कॉग्निटिव न्यूरोसाइंस में छपी है।रिसर्च से पता चला है कि लेफ्ट रोस्ट्रोलेट्रल प्रीफ्रंटल कोर्ट्यू को करेंट देकर उत्तेजित किया जा सकता है। इससे भूली हुई बातें फिर याद आ सकती हैं। इस रिसर्च के एक सीनियर ऑथर ने कहा, श्जब दिमाग के इस हिस्से की उत्तेजना बढ़ाई गई तो हमने इसक आश्चर्यजनक असर याद रखने की क्षमता पर देखा। लेफ्ट रोस्ट्रोलेट्रल प्रीफ्रंटल कोर्ट्यू माथे के बाईं ओर होता है। यह विचारों पर काम करता है। दिमाग के अन्य भागों में आने वाली सूचनाओं को भी यही हिस्सा प्रोसेस करता है।
साइकॉलजिस्ट्स ने एक्सपेरिमेंट के लिए तीन ग्रुप तैयार किए। इनमें औसत 20 साल तक के लोगों को शामिल किया गया। हर ग्रुप में 13 महिलाएं और 11 पुरुष थे। हर व्यक्ति को कंप्यूटर स्क्रीन पर करीब 80 शब्द दिखाए गए। इसके बाद ये अगले दिन फिर आए। यहां उन्हें हल्के झटके दिए गए जिससे स्मजि रोस्ट्रोलेट्रल प्रीफ्रंटल कोर्ट्यू न्यूरॉन्स की उत्तेजना बढ़ती या घटती है।
बताया जाता है कि कुछ देर बाद तीनों ग्रुप को अलग-अलग झटके दिए गए। एक ग्रुप के लोगों के दिमाग के इस हिस्से की उत्तेजना तेज की गई, एक ग्रुप के दिमाग के इस हिस्से की ऐक्टिविटी को कम किया गया और एक को सामान्य झटके दिए गए। अंत में पाया गया कि जिन लोगों को न्यूरॉन्स को उत्तेजित किया गया था उनकी स्मृति सबसे तेज थी। रिसर्चर्स का कहना है कि इसी तरीके से लोगों को वे बातें याद दिलाई जा सकती हैं जो वे भूल गए हैं।

फेसबुक या कहीं भी शेयर करो

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp

फेसबुक या कहीं भी शेयर करो

CALL NOW
+
Call me!