तनाव में पुलिस वाले, रात-दिन करते हैं काम, परिवार को नहीं दे पाते समय, घर भी बर्बाद, मनोरंजन का अवसर भी नहीं, अफसरों, नेताओं, गुंडों से होना पड़ता है अपमानित, अकड़ में जनता बदसुलूक करने से समाज में भी नहीं मिलता सम्मान ! जस्टिस मुल्ला ने कहा था, पुलिस संगठित गुंडों का गिरोह !

 

बरेली। कहते हैं पुलिस, कानून, डाॅक्टर से भगवान बचाए। कभी इलाहाबाद हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश आनंद नारायण मुल्ला ने पुलिस को संगठित गुंडों का गिरोह कहा था। काम के अत्यधिक घंटे, छुट्टियां न मिलने, परिवार को समय न दे पाने की दर्द, उससे बिगड़ते परिवार, मनोरंजन के अवसर का अभाव, अफसरों, मंत्रियों, नेताओं, माफियाओं, बदमाशों से मिलने वाला अपमान… यानी सबसे बुरी दशा है पुलिस वालों का। यूपी के बरेली जिले में बुधवार को एक सिपाही एसएसपी के सामने नौकरी से इस्तीफा देने पहुंच गया। एसएसपी ने समझाने के बाद उसका उसके इस्तीफे को विचार करने की बात कहते हुए अपने पास रख लिया। हालांकि, उसने इस्तीफे में बताया कि वह काफी परेशान है और नौकरी नहीं करना चाहता।
सिपाही ने एसएसपी को बताया कि नौकरी के कारण उसे परिवार के लिए वक्त नहीं मिलता था और इसी वजह से उसका तलाक हो गया। विभागीय सूत्रों के अनुसार इस्तीफा देने वाले उक्त सिपाही का नाम रवि कर है और वह मूल रूप से मुजफ्फनगर का रहने वाला हैं। सिपाही रवि फिलहाल बरेली पुलिस लाइन में तैनात है। जानकारी के मुताबिक रवि बुधवार को एसएसपी से मिला और बताया कि वह पुलिस लाइन में ही तैनात है। एसएसपी से बातचीत में उसने बताया कि वह बीमार रहता है और काफी परेशान है। इसके अलावा वह ठीक से ड्यूटी भी नहीं कर पा रहा है, इसलिए वह नौकरी से इस्तीफा देना चाहता है। सिपाही ने बताया कि शादी के तीन-चार महीने बाद ही उसका पत्नी से तलाक हो गया था। उसने जानकारी देते हुए यह भी कहा कि नौकरी के कारण कम समय मिलने के कारण वह पत्नी को पूरा वक्त नहीं दे पाता था। इसके अलावा छुट्टियां कम होने के कारण वह कई बार अपने घर भी नहीं जा पाता था, जिसे लेकर अक्सर परिवार में विवाद होता था। सिपाही की बात सुनने के बाद एसएसपी ने उसे काफी वक्त तक समझाया और फिर उसके इस्तीफे को अपने पास रखा लिया। इस पूरे घटनाक्रम के बाद कुछ अन्य पुलिसकर्मियों ने बताया कि सिपाही मानसिक रूप से परेशान है और वह अस्पताल में इलाज भी करा रहा है।

फेसबुक या कहीं भी शेयर करो

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp

फेसबुक या कहीं भी शेयर करो